चालान काटना कोई उद्देश्य नही न ही इसका कोई टारगेट होता है।

ख़बर शेयर करें

देहरादून राजधानी की ट्रैफिक व्यवस्था की समीक्षा करने दून एसएसपी दफ्तर पंहुचे डीजीपी अशोक कुमार ने मातहतों को जरूरी दिशा निर्देश दिये। डीजीपी के साथ आईजी कानून व्यवस्था डीआईजी गढवाल व डीआईजी ट्रैफिक भी मौजूद थे। आपको बताते चलें कि सीएम व डीजीपी की ट्रैफिक व्यवस्था सुधार को लेकर भी चर्चा हुई है। डीजीपी अशोक कुमार ने दो टूक कहा है कि किसी भी वाहन या व्यक्ति का चालान काटने का कोई टारगेट जैसा न तो कोई आदेश है न व्यवस्था है चालान सिर्फ व्यवस्था सुधार के लिये है अब कहा गया है कि चालानो में कमी लाकर व्यवस्था सुधार पर फोकस किया जाए। अशोक कुमार ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि राजधानी के बॉटल नेक व ब्लैक स्पॉटस पर तेजी के साथ अब व्यवस्था सुधार के लिये काम होगा सडकों की तुलना में वाहनों का दबाव चार गुना से अधिक बढ गया है। इसी अनुपात में पुलिसकर्मियों की ड़यूटी भी लगाई जा रही है। डीजीपी ने मातहतों को निर्देश दिये है कि जनता को कम से कम परेशानी हो ऐसी व्यवस्था बनानी है। 

Ad
Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments