राजधानी पुलिस की रेड,बड़े फर्जीवाड़े का हुआ खुलासा।

ख़बर शेयर करें

देहरादून-: युवाओं को आर्मी में भर्ती करवाने का झांसा देकर उनसे लाखों रुपये ठगने के एक बड़े मामले का भंडाफोड़ करते हुए राजधानी पुलिस की टीम को आज बड़ी सफलता मिली है।पुलिस ने मामले में कार्रवाई के बाद आर्मी इंटेलिजेंस को इसकी सूचना दी है।सूत्रों की माने तो एसटीएफ भी इस ऑपरेशन की सूचना पर एक्टिव थी पर सफलता दून पुलिस की टीम को मिली है। झाझरा से एक दर्जन से ज़्यादा युवकों को तीनों मुख्य आरोपियों संग टेरीटोरियल आर्मी के फर्जी नियुक्ति पत्र के साथ गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार 2 उत्तरप्रदेश व 1 हरियाणा के तीन शातिर ठगों द्वारा इन सभी युवाओं को टेरीटोरियल आर्मी में भर्ती के नाम पर तकरीबन 55 लाख ठगे गए है।

सूत्रों के अनुसार दून पुलिस को ऐसी शिकायत मिल रही थी। झांझरा में कुछ 1 दर्जन से अधिक युवकों के फर्जी तौर पर टेरीटोरियल आर्मी का सिपाही बनकर रहने की सूचना प्राप्त हुई जिसपर आज दून पुलिस की टीम ने छापा मारकर क्षेत्र के एक घर से 1 दर्जन से अधिक युवकों को मौके से गिरफ्तार किया है। (1) युवराज पुत्र राजेन्द्र सिंह निवासी बुलंदशहर, उत्तरप्रदेश, (2)पंकज पुत्र ब्रिज भूषण निवासी ग्राम सुरादहेड़ा, बागपत, उत्तर प्रदेश,(3)सोनू कुमार पुत्र सूबा सिंह निवासी बूंद कला, चरखीदादरी, हरियाणा को भी गिरफ्तार किया है। इन तीनो शातिर द्वारा युवकों से टेरीटोरियल आर्मी बटालियन में भर्ती करवाने के नाम पर कुल 55 लाख रुपये ठगे गए है । उन्होंने गिरफ्तार युवकों के पास से फर्जी नियुक्ति पत्र भी बरामद किया है।

यह भी पढ़ें 👉  एसपी टिहरी तृप्ति का मिशन हौसला बना नजीर पूरे प्रदेश में होगा लागू।

जानकारी के अनुसार इन तीनो ठगों द्वारा इन सभी युवकों को टेरीटोरियल आर्मी में भर्ती करवाने के नाम पर अक्टूबर से ही आर्मी की 5सेंटर में घुमाया गया जिसमें इन्हें इन ठगों द्वारा आगरा, गवालिर, अलवर, जयपुर, ऋषिकेश और देहरादून जगहों में जॉइनिंग के नाम पर घुमाया गया। दून पुलिस की कारवाई के बाद अलग अलग एजेंसी अब इनसे पूछताछ करने में जुट गई है।


Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments