सफल आबकारी नीति सरकार की पारदर्शी व्यवस्था पर मुहर।

ख़बर शेयर करें

देहरादून उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सरकार की नई आबकारी नीति के प्रथम चरण में ही दुकान व्यबस्थापन से 90 फीसदी राजस्व हासिल कर बीते 10 सालों के सभी रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिये है। इतना ही नही अगले दो प्रस्तावित चरण में ये राजस्व तय राजस्व को पार करने जा रहा है। 90 फीसदी दुकानों का व्यबस्थापन हो चुका है।आबकारी महकमे की नीति ने अगले वर्ष के लिए भी राजस्व सुरक्षित कर लिया है।

सचिव आबकारी सचिन कुर्वे

नई आबकारी नीति 2021 22 में आबकारी महकमे को मिले 3600 करोड़ रूपए राजस्व में से 2051 करोड़ रुपए ठेकों से अर्जित करने थे इसमे करीब 90 फीसदी यानी करीब 1970 करोड़ रुपए आबक़ारी ठेका आवंटन के प्रथम चरण से मिल गया है। प्रदेश के 5 जिलों में ठेका आवंटन शत प्रतिशत पूर्ण हो चुका है।जबकि अन्य जिलों में 90 फीसदी ठेके उठ चुके है। कल से शुरू होने जा रहे द्वितीय चरण के बाद कोई भी ठेका तृतीयं चरण के लिए बचेगा इसकी उम्मीद न के बराबर है।अनुमान ये भी है कि ठेका आवंटन मात्र से ही करीब 120 करोड़ अधिक मिलने की उम्मीद है। सचिव सचिन कुर्वे ने बताया कि आबकारी नीति के तैयार करने से लेकर इसके शत प्रतिशत अनुपालन व सफल बनाने में अधिकारियों ने शानदार काम किया है।विभाग ठेका आवंटन के बाद कुछ अन्य विभाग में सुधार के लिए और जरूरी कदम उठाएगा।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments